एक साल में भी नहीं मिला उपज का भुगतान

nspnews 19-03-2019 Regional

किसानों ने थाने पहुंचकर की शिकायत
नरसिंहपुर। जिले में अपने अनाज के लंबित भुगतान को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों ने अनिश्चतकालीन धरने के पांचवे दिन दर्जनों की संख्या में थाना कोतवाली पहुंचकर सहकारी समितियों के दोषी कर्मचारियों और अधिकारियों के खिलाफ थाना प्रभारी को   शिकायत आवेदन सौंपकर मामला दर्ज की मांग की गई।
भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष बाबू पटैल ने बताया कि जिले के लगभग 650 किसानों का चना, मूंग, उड़द एवं गन्ने का भुगतान विगत एक साल से लंबित पड़ा है। किसानों द्वारा व्यक्तिगत रूप से जिले के वरिष्ठ अधिकारियों को ज्ञापन आदि देकर आर्थिक, सामाजिक व मानसिक रूप से परेशान होने की बात कहकर शीघ्र भुगतान किए जाने की मांग की जाती रही है। वाबजूद इसके शासन प्रशासन द्वारा किसानों के भुगतान को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई जा रही है। जिसके फलस्वरूप परेशान किसान एक बार फिर आंदोलन के लिए मजबूर हुए हैं। इसी कड़ी में दोषी कर्मचारियों के खिलाफ उन्होंने मोर्चा खोल दिया है। शिकायत करने वालों में झलकन पिता अन्नीलाल निवासी तिंदनी, श्यामलाल पिता हल्के निवासी तिंदनी, जवाहर पिता डिल्ली सिंह निवासी घाटपिंडरई, श्रीमती द्रोपती बाई पत्नि प्रीतम सिंह निवासी शेड बेलखेड़ी इन्होंने तत्कालीन समिति प्रबन्धक अरविंद शर्मा, केंद्र प्रभारी असगर अली, कंप्यूटर ऑपरेटर अमित श्रीवास्तव एवं वर्तमान में सहकारी विपणन समिति कंदेली नरसिंहपुर के खिलाफ शिकायत कर यह बताया गया है कि उनके द्वारा समर्थन मूल्य पर कृषि उपज मंडी स्टेशन गंज में उनके अनाज की तुलाई की गई थी। जिसकी पर्ची शिकायतकर्ताओं के पास है किंतु उन्हें कम्प्यूटर बिल आज तक प्रदान न करके उनके अनाज को खुर्द बुर्द कर दिया गया है। ऐसे लगभग आधा सैकड़ा किसान हैं जिनके बेचे गए अनाज को कम्प्यूटर पर्ची प्रदान नहीं की गई है।

प्रादेशिक